शुक्रवार, जून 09, 2006

शुभारंभ

आशा है की पिछले संकलन की तरह इसका बैंड नही बजेगा, वैसे इसके लिए हमने गूगल देवता को प्रसाद भी चडा दिया है

3 टिप्‍पणियां:

froginthewell ने कहा…

Dude, your other blog, lifeandsomething, is not allowing me to comment

Raviratlami ने कहा…

और, ये देखो गूगल देव ने ही हमें आपके ब्लॉग पर भेज दिया :)

doubtinggaurav ने कहा…

सब गूगल देव की महिमा है, हमारा विचार है कि अब गूगल को भी ईष्ट देवता कि श्रेणी में गिना जाये, इस के लिऍ वरूण देवता को सरका भी सकतें हैं